विटामिन डी की सम्पूर्ड गाइड – सिम्पटम्स, टेस्ट, कैसे ध्यान रखे / Vitamin D in Hindi

भारत में विटामिन डी की कमी और विटामिन डी के टेस्ट / Vitamin D deficiency in Hindi

पिछले कुछ वर्षों में भारत के पत्र और पत्रिकाओं में विटामिन डी की कमी के बारे मे लिखा गया है। विटामिन डी की कमी एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है। यह समस्या बहुत तेज़ी से पूरे विश्व में पनपती जा रही है। विटामिन डी के बारे में सबसे खास बात है यह कि अगर हमारी जीवनशैली अच्छी हो तो इसे प्राप्त करने के लिए हमें  कुछ भी अलग से नहीं करना पड़ता है क्योंकि विटामिन डी का सबसे उत्तम स्त्रोत जो है वो है सूर्य की रौशनी। भारत मे धूप बहुत है इसलिए हमने यह उम्मीद कभी नहीं की होगी की विटामिन डी की कमी एक चिंता का विषय के रूप में सामने आयगी।


₹ 200 का वाउचर पाएँ और LabsAdvisor के साथ कोई भी मेडिकल टेस्ट करवाएँ। 

कोड प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।


LabsAdvisor.com, एक मेडिकल टेस्ट कंपनी है,जो आपको अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करने की दिशा में काम कर रहा है। आपकी मदद करने के लिए यह लेख लिखा है जिससे लोगों को विटामिन डी की कमी के विभिन्न पहलुओं को समझने और इसका कैसे परीक्षण किया जाना है, के बारे में बताता है । इस अनुच्छेद में शामिल सामग्री इस प्रकार है:

  1. विटामिन डी की कमी के लक्षण क्या हैं?
  2. मानव शरीर में विटामिन डी की भूमिका क्या है?
  3. विटामिन डी में खाये जाने वाले खाद्य पदार्थ क्या हैं?
  4. विटामिन डी के उत्पादन के लिए शरीर को पर्याप्त मात्रा में धूप की जरूरत कितनी है?
  5. विटामिन डी के स्तर के लिए कौन से  टेस्ट निर्धारित है?
  6. शरीर में विटामिन डी की सामान्य सीमा क्या है?
  7. भारत में विटामिन डी टेस्ट की कीमत क्या है?
  8. हम अपने विटामिन डी के टेस्ट कैसे बुक कर सकते हैं?
  9. अगर मुझे विटामिन डी की कमी है तो क्या उपाय करूँ ?

आप नीचे दिए गए वर्गों को स्वतंत्र रूप से पढ़ सकते हैं। यदि आप अपने टेस्ट बुक करने के लिए LabsAdvisor.com को पसंद करते हैं, तो कृपया हमें 08882668822 पर कॉल करें या अपने स्थान का चयन करके LabsAdvisor.com पर स्वयं ऑनलाइन बुकिंग कर सकते हैं ।आप फोन वापसी के लिए नीचे दिए गए फॉर्म को भी भर सकते हैं। हम भारत में 200 से अधिक शहरों में Home Collection की सुविधा प्रदान करते हैं।

विटामिन डी की कमी के लक्षण और किसे टेस्ट करना जरूरी है

विटामिन डी की कमी के लक्षण क्या हैं?

आइये आज हम आपको शरीर में विटामिन डी की कमी के कुछ लक्षणों के बारे में बताते हैं।

  • मांसपेशियों में दर्द।
  • हड्डी या जोड़ों मे दर्द।
  • थकान और सुस्ती।
  • मिजाज का बदलना।
  • सिर से पसीना आना।

कई लोगों में विटामिन डी की कमी के लक्षण स्पष्ट नहीं होते है। हालांकि, आपके शरीर में विटामिन डी पर्याप्त मात्रा में है या नहीं ,यह सुनिश्चित करने के लिए यह टेस्ट कराना बहुत महत्वपूर्ण है। विटामिन डी की कमी गठिया, कैंसर, मधुमेह और मानसिक अवसाद जैसी बीमारियों के साथ जुड़ा हुआ है।

यदि आपमें इनमें से एक या अनेक लक्षण है, तो आपको विटामिन डी टेस्ट करा लेना चाहिए

सूरज की रोशनी कम मिलना: जो लोग एक साधारण जीवन शैली का अनुसरण करते हैं, ज्यादातर घर के अंदर रहते हैं और उन्हें पर्याप्त धूप नहीं मिलती,  ऐसे व्यक्तियों में विटामिन डी की कमी की अधिक संभावना होती है , उन लोगों की तुलना में जो बाहर काम करते हैं और नियमित रूप से व्यायाम करते हैं।

मोटापा : फैट या मोटापे से पीड़ित लोगों को सामान्य लोगों की तुलना में विटामिन डी की कमी होने की अधिक संभावना है।

पाचन तंत्र के रोग: Celiac या Crohn’s जैसे रोग व्यक्ति के वसा में घुलनशील विटामिन को अवशोषित करने की क्षमता को कम करता है। आप किसी भी पाचन तंत्र की बीमारी से ग्रस्त हैं, तो आप को विटामिन डी का टेस्ट कराना चाहिए।

गहरे रंग की त्वचा वाले लोग: गहरे रंग की त्वचा के लोगों को धूप की अधिक जरूरत है सफेद त्वचा वाले लोगों की तुलना में। दोनों में विटामिन डी का उत्पादन करने की क्षमता एक नहीं होती।

उम्र: कई अन्य कमियों के रूप में, उम्र के साथ विटामिन डी की कमी की संभावना बढ़ जाती है।

लक्षणों की अधिक जानकारी के लिए आप यहाँ जाँच कर सकते हैं।

मानव शरीर में विटामिन डी की भूमिका क्या है?

विटामिन डी मानव शरीर में कैल्शियम और फास्फोरस के अवशोषण के लिए जरूरी है। यदि आपमें पर्याप्त कैल्शियम और फास्फोरस (जो हमारे अस्थि स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं), कि कमी है, तो आपकी हड्डियां कमजोर हो सकती है। शरीर में विटामिन डी के अन्य महत्वपूर्ण कार्य हैं जो निम्न प्रकार से हैं:

  1. विटामिन डी उच्च रक्तचाप से ग्रस्त रोगियों में रक्त दबाव को कम करने के लिए उपयोगी है।
  2. विटामिन डी की उचित खुराक से दिल के दौरे, एकाधिक काठिन्य, टाइप 1 मधुमेह और कैंसर के कुछ प्रकार के जोखिम में कमी आ जाती है ।
  3. यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, इसमें भी विटामिन डी सहायता करता है।
  4. विटामिन डी मानसिक चिंता से भी लड़ने में मदद करता है।

कई अध्ययनों से पता चला है कि अब विटामिन के कई लाभ है । कुछ डॉक्टरों के सुझाव है कि विटामिन डी को दैनिक पोषक तत्वों की पूरकता के हिस्से के रूप में प्रयोग किया जाना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

विटामिन डी के अच्छे स्रोत क्या हैं / Sources of Vitamin D in Hindi

सबसे अच्छा प्राकृतिक तरीके से विटामिन डी प्राप्त करने का स्रोत धूप है, और इसके अलावा वसायुक्त मछली (सैल्मन, ट्यूना या समुद्री मछली) जैसे कुछ खाद्य पदार्थ है जो विटामिन डी के अच्छे स्रोत हैं। इसके अतिरिक्त विटामिन डी, बीफ़, जिगर, पनीर और अंडे में भी पाया जा सकता हैं।

जिन लोगो में विटामिन डी की कमी होती है उन्हें कुछ हफ़्तों में एक बार कॉलेकैल्सिफेरॉल (vitamin D3) की खुराक की राय दी जाती है। कॉलेकैल्सिफेरॉल, विटामिन डी (विटामिन D3) का एक रूप है, जो आसानी से शरीर द्वारा अवशोषित किया जाता है । किसी भी विटामिन D की पूरकता शुरू करने से पहले डॉक्टर से परामर्श ज़रूर करना चाहिए।

विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा के लिए धूप की कितनी जरूरत होती है?

विटामिन डी हमारे शरीर द्वारा धूप मे बनता है। गर्मियों में कुछ ही समय सूर्य की रौशनी में बिताने से विटामिन डी की अच्छी मात्रा मिल जाती है।  विटामिन डी की शरीर में बनना इन मुख्य बातों पर निर्बर करता है – दिन का समय, बादलों  का होना, आपकी त्वचा का रंग और शरीर का कितना भाग सूर्य की किरणों से सम्पर्क मे है। एक व्यक्ति स्विमिंग सूट में अधिक धूप अब्सॉर्ब करता है।

विटामिन डी के स्तर के लिए कोन से टेस्ट निर्धारित है?/ विटामिन डी टेस्ट

विटामिन D की कमी के स्तर के लिए 25 hydroxyvitamin D टेस्ट कराया जाता है। इसे विटामिन डी 25 OH टेस्ट भी कहा जाता है। विटामिन डी की अधिकता का शरीर में संदेह है, तो 1, 25 dihydroxy विटामिन D टेस्ट का आदेश दिया जा सकता है।

आप इन टेस्ट का विवरण, यहाँ जाँच कर सकते हैं।


₹ 200 का वाउचर पाएँ और LabsAdvisor के साथ कोई भी मेडिकल टेस्ट करवाएँ। 

कोड प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।


शरीर में विटामिन डी की सामान्य सीमा क्या है?

विटामिन डी 25 OH की रेंज ng/ml or nmol/liter में मापा जाता है। परिणाम की व्याख्या निम्न  है:

विटामिन डी की कमी: 20 ng /ml or 50 nmol/L से कम, कमी माना जाता है

अपर्याप्त:  20 ng/ml (50 nmol/L) से 29 ng/ml  (74 nmol/L)  के बीच अपर्याप्त माना जाता है।

पर्याप्त:   75 nmol/L से  250 nmol/L अधिकतम स्वास्थ्य लाभ के लिए एक अच्छी संख्या में माना जाता है।

संभावित विषाक्तता: 250 nmol/L से अधिक है, वहाँ एक मौका है कि विटामिन D शरीर में विषाक्तता का कारण बन सकता है।

संदर्भ यहाँ से लिया जाता है। और यहाँ जाँच कर सकते हैं ।

भारत में विटामिन D के टेस्ट की लागत क्या है?

विटामिन D 25 OH टेस्ट की कीमत ₹ 500 Home Collection सहित से शुरू होता है और प्रयोगशाला के अपने चयन के आधार पर ₹ 1500 तक जाता है। आप यहां विटामिन डी के टेस्ट की कीमत और स्वमं बुकिंग  की जांच कर सकते हैं। अपने शहर और क्षेत्र के लिए स्थान बदलकर, आपको उपलब्ध प्रयोगशालाएँ मिल जाएगी।

HBA1c टेस्ट  HBA1c टेस्ट की कीमत 
 दिल्ली में विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500
नोएडा में विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500
गुड़गांव विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500
मुंबई में विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500
चेन्नई में विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500
हैदराबाद में विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500
बैंगलोर में विटामिन D टेस्ट की कीमत ₹ 500

हम अपने विटामिन D के टेस्ट कैसे बुक कर सकते हैं?

आप अपने विटामिन D के टेस्ट LabsAdvisor के द्वारा इस नंबर पर फोन करके 08882668822 बुक करा सकते हैं। आपको टेस्ट के लिए अच्छी गुणवत्ता की प्रयोगशाला प्रदान की जायगी, हम यह भी सुनिश्चित करेंगे कि आपको विटामिन डी के टेस्ट के लिए रियायती दर प्राप्त हो। आप हमको  info@labsadvisor.com  पर ईमेल ड्रॉप कर सकते हैं या फोन वापसी के लिए फार्म को भर सकते हैं। कृपया इस पेज पर जाएँ, और स्थान बदल कर ऑनलाइन बुक कर सकते हैं ।

अगर मुझे विटामिन डी की कमी है तो क्या उपाय करूँ ?

यदि आपमें  विटामिन डी का स्तर अपर्याप्त या कमी हैं, तो आपके डॉक्टर से विटामिन डी की पूरक पर शुरूआत हो सकती है। अगर कमी को काफी पहले पकड़ा जाता है, तो कोई परेशानी नहीं होती हैं और सामान्य स्तर को जल्द ही वापस लाया जा सकता है। LabsAdvisor की तरफ से यह सिफारिश की गई है कि 25 साल की उम्र में हर किसी को अपनी वार्षिक निवारक स्वास्थ्य जांच के हिस्से में विटामिन डी के टेस्ट को शामिल कराना चाहिए। यह समय में अपनी हड्डियों को बचा सकते है। आप इस पैकेज पर विचार कर सकते हैं।


₹ 200 का वाउचर पाएँ और LabsAdvisor के साथ कोई भी मेडिकल टेस्ट करवाएँ। 

कोड प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।


अन्य गाइड है जो आपके लिए उपयोगी हो सकता है:

हम कई लेख लिखते हैं जिससे हमारे पाठकों को स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं पर नवीनतम हो सकती है। नीचे सूचीबद्ध किये गए अन्य गाइडों में से कुछ हैं:-

  1. दिल्ली / एनसीआर के लिए अंग्रेजी मे पूरा एमआरआई गाइड
  2. लिवर फंक्शन विकार के लक्षण और परीक्षण, अंग्रेजी मे गाइड
  3. थायराइड फंक्शन गाइड
  4. भारत के लिए थायराइड रोग के लिए पूरा गाइड
  5. विटामिन डी की अंग्रेजी में सम्पूर्ड़ गाइड
  6. मैमोग्राफी टेस्ट दिल्ली गुडगाँव नोएडा में बुक करें
  7. डेक्सा स्कैन (Dexa Scan) दिल्ली गुडगाँव नोएडा में बुक करें

यदि आपके लिए यह लेख को उपयोगी है तो इस पर अपनी टिप्पणी दीजिये । इससे हमें आपको अधिक जानकारी देने के लिए प्रेरणा मिलेगी।


8 thoughts on “विटामिन डी की सम्पूर्ड गाइड – सिम्पटम्स, टेस्ट, कैसे ध्यान रखे / Vitamin D in Hindi

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s