fbpx

भारत में हेपेटाइटिस C टेस्ट की गाइड पढ़ें और Anti HCV टेस्ट 50% डिस्काउंट के साथ बुक करें। (Hepatitis C in Hindi)

भारत में Anti HCV Test की कीमत और हेपेटाइटिस सी वायरस पर गाइड (Anti HCV Test in Hindi)/HCV TEST IN HINDI

भारत में हेपेटाइटिस C टेस्ट/HCV TEST IN HINDI की इस गाइड में हम निम्नलिखित क्षेत्रों को कवर करते हैं, जिन्हें स्वतंत्र रूप से पढ़ा जा सकता है।

  1. भारत में एचसीवी टेस्ट/HCV TEST IN HINDI या एंटी एचसीवी परीक्षण की कीमत क्या है?
  2. हेपेटाइटिस सी क्या है?
  3. हेपेटाइटिस C संक्रमण के क्या कारण हैं?
  4. हेपेटाइटिस सी के लक्षण क्या हैं?
  5. हेपेटाइटिस सी का निदान कैसे किया जाता है?
  6. हेपेटाइटिस सी का इलाज कैसे किया जाता है?
  7. भारत में HCV टेस्ट कैसे बुक करें?

भारत के किसी भी शहर में एचसीवी टेस्ट बुक करने के लिए, नीचे दी गई तालिका में दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें या हमें 09999279113 पर कॉल करें।

भारत में हेपेटाइटिस C टेस्ट / Anti HCV Test की कीमत क्या है ?/ Cost of HCV TEST IN HINDI

Anti HCV Total Test/ HCV TEST IN HINDI LabsAdvisor में Anti HCV Total टेस्ट की कीमत/ Cost of HCV TEST IN HINDI
दिल्ली में Anti HCV Total की कीमत ₹ 400
नॉएडा में Anti HCV Total की कीमत ₹ 400
गुडगाँव में Anti HCV Total की कीमत ₹ 400
हैदराबाद में Anti HCV Total की कीमत ₹ 618
मुंबई में Anti HCV Total की कीमत ₹ 612
बैंगलोर में Anti HCV Total की कीमत ₹ 680
चेन्नई में Anti HCV Total की कीमत ₹ 1595

 

Anti HCV Card Test/HCV TEST IN HINDI LabsAdvisor में Anti HCV Card टेस्ट की कीमत
दिल्ली में Anti HCV Card की कीमत ₹ 420
नॉएडा में Anti HCV Card की कीमत ₹ 400
गुडगाँव में Anti HCV Card की कीमत ₹ 700
हैदराबाद में Anti HCV Card की कीमत ₹ 332
मुंबई में Anti HCV Card की कीमत ₹ 548
बैंगलोर में Anti HCV Card की कीमत ₹ 638
चेन्नई में Anti HCV Card की कीमत ₹ 340

हेपेटाइटिस सी (Hepatitis C) क्या है?

हेपेटाइटिस सी एक संक्रमण है जिससे लीवर की बीमारी होती है (यह बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को पास होती है), इस रोग से लीवर की गंभीर क्षति, सिरोसिस ओर लीवर में सूजन आ जाती है, यह लीवर में वायरल इन्फेक्शन के कारण होता है। संक्रमण के कारण बनने वाले वायरस को हेपेटाइटिस सी वायरस (HCV) कहा जाता है।

हेपेटाइटिस सी वायरस सीधे लीवर को संक्रमित करता है और इस प्रतिक्रिया में प्रतिरक्षा प्रणाली रसायनों को जारी करता है, ये रसायन लीवर को सुधारने के लिए कोलेजन के रूप में जाना जाने वाला रेशेदार प्रोटीन उत्पन्न करते हैं, कोलेजन तेजी से बढ़ता है जो लीवर में scar ऊतक बनाता है।

जब scar ऊतक लीवर में होते है, तो इसे फाइब्रोसिस कहा जाता है, फाइब्रोसिस रक्त को लीवर की कोशिकाओं में बहने से रोकता है और समय की अवधि में लीवर की कोशिकाएं मर जाती हैं और लीवर सामान्य रूप से काम करना बंद कर देता है। हेपेटाइटिस सी (HCV) से संक्रमित हर कोई इस तरह की बीमारी को अनुभव करता है।

हेपेटाइटिस सबसे ज्यादा रक्त और अन्य शरीर के तरल पदार्थों के माध्यम से होता है जिसमें वायरस से संक्रमित व्यक्ति का खून होता है और अधिकतर लोग इसके बारे में अनजान होते हैं। हेपेटाइटिस ए और बी के लिए टीकाकरण हैं लेकिन सी के लिए नहीं है।

यदि संक्रमित व्यक्ति छह महीने में वायरस को साफ नहीं करवाता है तो संक्रमण पुराना हो जाता है और दवाओं के माध्यम से इसका इलाज कठिन होता है, यदि इलाज न किया जाए तो पुराने संक्रमण के कारण, सिरोसिस और लीवर के कैंसर और कुछ मामलों में मौत हो सकती है।

हेपेटाइटिस C के क्या कारण हैं?

हेपेटाइटिस सी एक बीमारी है जो किसी संक्रमित व्यक्ति के रक्त या अन्य शरीर के तरल पदार्थों द्वारा वाहन करती है। नीचे सूचीबद्ध किए गए सबसे आम तरीके हैं कि व्यक्ति कैसे हेपेटाइटिस सी द्वारा संक्रमित होता है।

  1. रक्त: जब कोई व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति से रक्त प्राप्त करता है, जिसको पहले से ही हैपेटाइटिस सी होता है।
  2. सुईं और सिरिंज: एचसीवी संक्रमित व्यक्ति के द्वारा उपयोग की गई सुई या सिरिंज का उपयोग करने से।
  3. यौन संपर्क: जब कोई व्यक्ति एचसीवी से संक्रमित किसी व्यक्ति के साथ यौन संपर्क में आता है।
  4. संक्रमित मां: एचसीवी द्वारा एक बच्चा संक्रमित होता है, अगर गर्भ के दौरान मां को बीमारी हो।
  5. लंबी अवधि की किडनी डायलिसिस होने पर: किडनी की विफलता कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है, जिनमें से कुछ गंभीर हो सकते हैं, गुर्दे की विफलता से हेपेटाइटिस सी के संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है।
  6. एचआईवी: एचआईवी लोगों में एचसीवी आम है; एचसीवी वायरस उसी तरीके से फैलता है जैसे एचआईवी संचरित होता है, जैसे इंजेक्शन के उपयोग के माध्यम से, किसी भी एहतियात के बिना नशीली दवाओं के उपयोग के माध्यम से। जब कोई एचआईवी और वायरल हैपेटाइटिस दोनों से संक्रमित होता है, तो हम कहते हैं कि वे “सह संक्रमित” हैं।

हेपेटाइटिस C(एचसीवी) के लक्षण क्या हैं?

हेपेटाइटिस सी संक्रमण आमतौर पर एक तीव्र संक्रमण के रूप में शुरू होता है। यह एक्सपोजर के कुछ सप्ताह बाद होता है। वायरस के इस चरण में कई लोगों में बहुत कम लक्षण होते हैं जिनको संक्रमण हैं। यदि वे लक्षण अनुभव करते हैं, ये लक्षण, एक्सपोज़र के कुछ सप्ताह या महीनों के बाद शुरू हो सकते है।

हेपेटाइटिस सी के लक्षणों के दो चरण हैं:

  • तीव्र चरण
  • गंभीर व पुराना चरण

तीव्र चरण के दौरान लक्षण: (रोग के छह महीने पहले)

हाल ही में एचसीवी से संक्रमित लोगों में निम्न लक्षण हो सकते हैं:

  • पेट में दर्द
  • भूख में कमी
  • गहरा मूत्र (मूत्र गहरे पीले रंग का दिखाई दे सकता है)
  • थकान
  • बुखार
  • मल के रंग में परिवर्तन (मल भूरा दिखाई दे सकता है)
  • जोड़ों में दर्द
  • मतली उल्टी
  • जब त्वचा और आंखें पीले दिखाई देती हैं तो इसे पीलिया कहा जाता है, जिसका संकेत है कि लीवर सामान्य रूप से काम नहीं कर रहा है।

गंभीर व पुराने चरण के दौरान लक्षण:

संक्रमण के छह महीने के बाद रोग का पुराना चरण शुरू हो जाता है। इस चरण में शरीर वायरस से लड़ने में सक्षम नहीं होता है और उन्हें दीर्घकालिक संक्रमण हो जाता है।

कुछ लोगों के पास अभी भी पुराने चरण के दौरान कोई लक्षण नहीं होते है। अक्सर, लोगों का तब तक निदान नहीं किया जाता है जब तक कि वे रक्तदान के दौरान स्क्रीनिंग न कराते हों ओर उनके डॉक्टर नियमित ब्लड टेस्ट के दौरान लीवर एंजाइम के उच्च स्तर का पता लगाते हैं।

सिरोसिस और लीवर की विफलता: उपचार के बिना, scar ऊतक आपके लीवर के अधिक होता है। यह एक chronic अवस्था है और इसे सिरोसिस कहते है।

लीवर पहले चरण में क्षतिपूर्ति करता है। लेकिन समय के साथ, लीवर बहुत क्षतिग्रस्त हो जाता है और रक्त इसके माध्यम से आसानी से प्रवाह नहीं होता है, और लीवर ठीक से काम नहीं करता है और आपका रक्त जहरीली पदार्थ को फिल्टर करने में सक्षम नहीं होता है।

सिरोसिस वाले लोगों में ऐसे लक्षण होते हैं जैसे:

  • नील पड़ना और खून का बहना
  • उलझन
  • थकान
  • अस्पष्टीकृत खुजली
  • पीलिया
  • भूख में कमी
  • जी मिचलाना
  • पैरों और पेट में सूजन
  • वजन घटना
  • सिरिओसिस से लीवर कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।
हेपेटाइटिस C टेस्ट/HCV TEST IN HINDI बुक करने के लिए 09811166231 पर कॉल करें।
LabsAdvisor.com- Hepatitis C टेस्ट डिस्काउंट रेट में बुक करें और 3% cash back पाएं।

 

हेपेटाइटिस सी का निदान कैसे किया जाता है?

हेपेटाइटिस सी (HCV) का आम तौर पर भौतिक परीक्षा द्वारा, लक्षणों द्वारा, रक्त परीक्षणों और अन्य अध्ययनों जैसे Fibro Sure के द्वारा निदान किया जाता है। कभी-कभी डॉक्टर कुछ इमेजिंग अध्ययन जैसे कि अल्ट्रासाउंड या CAT स्कैन के लिए भी बोल सकते हैं और लीवर बायोप्सी का भी उपयोग किया जाता है।

अगर आपके डॉक्टर को लगता है कि आपको हेपेटाइटिस सी हो सकता है, तो वह आपको कुछ रक्त परीक्षणों को करवाने के लिए बोल सकता है:

हेपेटाइटिस सी की स्क्रीनिंग रक्त परीक्षण से शुरू होती है जो शरीर में एचसीवी एंटीबॉडी की उपस्थिति की जांच करता है। हेपेटाइटिस सी वायरस (एचसीवी) टेस्ट/HCV TEST IN HINDI एक रक्त परीक्षण है जो कि वायरस के genetic material (RNA) को देखता है ओर हेपेटाइटिस का कारण बनता है और प्रोटीन (एंटीबॉडी) के लिए शरीर को एचसीवी के विरुद्ध बनाता है। यदि आप हैपेटाइटिस सी संक्रमित है या आपको पहले कभी हुआ है तो ये प्रोटीन आपके रक्त में अब भी मौजूद होंगे। यदि एचसीवी एंटीबॉडी नहीं पाए जाते हैं तो एचसीवी एंटीबॉडी को बिना किसी प्रतिक्रिया के परीक्षण का परिणाम माना जाता है। कोई और परीक्षण की आवश्यकता नहीं है।

हेपेटाइटिस सी का इलाज कैसे किया जाता है?

कई डॉक्टरों ने कहा है कि, हेपेटाइटिस सी वायरस से संक्रमित चार लोगों में से एक को अंततः संक्रमण से बिना किसी उपचार के ठीक किया जाएगा। इन लोगों के लिए, हेपेटाइटिस सी एक अल्पकालिक तीव्र संक्रमण होगा जो किसी भी उचित उपचार या दवा के बिना दूर हो जाता है।

हालांकि, एक्यूट हेपेटाइटिस सी ज्यादातर लोगों के लिए एक पुराने संक्रमण में विकसित होगा और फिर उन्हें उपचार की आवश्यकता होगी। यदि आपको पता चलता है, कि आप HCV से संक्रमित हैं तो इसके लिए परीक्षण कराना महत्वपूर्ण है, क्योंकि इसके विषाणु में अक्सर लीवर की क्षति होने तक लक्षण नहीं होते हैं।

हेपेटाइटिस सी उपचार इस बात पर निर्भर करता है:

  • लीवर कैसे क्षतिग्रस्त हुआ है?
  • शरीर की अन्य स्वास्थ्य स्थितियां?
  • हेपेटाइटिस सी वायरस आपके शरीर में कितना है?
  • आपको किस प्रकार का हेपेटाइटिस सी हैं?

उपचार के कुछ अन्य तरीके हैं:

  • दवाएं: हेपेटाइटिस सी संक्रमण का इलाज कुछ एंटीवायरल दवाओं के साथ किया जा सकता है, जिसका उद्देश्य शरीर से वायरस को हटाने से है। उपचार पूरा करने के बाद कम से कम 12 – 13 सप्ताह के बाद आपके शरीर में कोई हेपेटाइटिस सी वायरस नहीं मिलता है। हालांकि, कभी-कभी हेपेटाइटिस सी का इलाज करने वाली दवाएं गंभीर दुष्प्रभाव पैदा कर सकती हैं, ये महंगे हैं, और हर किसी के लिए काम नहीं करते हैं।
  • लीवर प्रत्यारोपण: यदि आपमें पुराने हेपेटाइटिस सी संक्रमण की गंभीर जटिलताओं का विकास है तो लीवर प्रत्यारोपण एक विकल्प हो सकता है। इस प्रत्यारोपण के दौरान सर्जन आपके क्षतिग्रस्त लीवर को हटा कर उसे स्वस्थ लीवर के साथ बदल देता है। हालांकि, ज्यादातर मामलों में, केवल  लीवर प्रत्यारोपण हेपेटाइटिस सी का इलाज करने में सक्षम नहीं है। ट्रांसप्लाटेड लीवर को नुकसान पहुंचाने के लिए एंटीवायरल दवा के साथ भी इलाज की आवश्यकता होती है, इस संक्रमण की वापस होने की संभावना भी होती है।
  • टीकाकरण: कई डॉक्टर लोगों को हेपेटाइटिस ए और बी वायरस के खिलाफ टीके लगवाने की सलाह देते हैं, हालांकि हेपेटाइटिस सी के लिए कोई टीका नहीं है। ऐसा इसलिए है क्योंकि हेपेटाइटिस सी के उपचार के दौरान, ये वायरस भी लीवर की क्षति और जटिलताओं का कारण बन सकता हैं।

क्या हेपेटाइटिस सी को रोका जा सकता है?

सबसे अच्छा रोकथाम एक्सपोज़र से बचने के लिए है, क्योंकि आप टीका प्राप्त करके हेपेटाइटिस सी को नहीं रोक सकते। हेपेटाइटिस सी एक रक्तजनित रोगज़नक है, इसलिए आप खतरनाक व्यवहार से बचकर अपने एक्सपोज़र को सीमित कर सकते हैं। कुछ नीचे वर्णित हैं:

  1. अपने रेजर, कंघी या टूथ ब्रश जैसी व्यक्तिगत वस्तुओं को किसी के साथ शेयर न करें।
  2. यदि आप इंजेक्शन का उपयोग करते हैं तो सुई सुरक्षा सावधानी से बरतें, सुइयों को शेयर न करें।
  3. यदि आपके पास कई यौन साझेदार हैं, तो सुरक्षित सेक्स करें।
  4. अनियमित वातावरण ओर दूषित उपकरण से टैटू नहीं बनवाएं।
  5. स्वस्थ और संतुलित भोजन खाएं और शराब से बचें। मोटापा और अल्कोहल से हेपेटाइटिस सी संक्रमण बनता है जिसका इलाज करना बहुत मुश्किल है।
  6. गर्भवती महिलाएं और हेपेटाइटिस सी वायरस के संक्रमण के किसी भी लक्षण में स्क्रीनिंग टेस्ट के बारे में अपने डॉक्टर से ज़रूर बात करें।

भारत में HCV टेस्ट कैसे बुक करें?

भारत में HCV टेस्ट/ HCV TEST IN HINDI बुक करने के लिए आप 09999279113 पर कॉल या whatsapp करें। अभी बुक करने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके जानकारी भरें और HCV टेस्ट (HCV TEST IN HINDI) की पूरी जानकारी ले :

नीचे कुछ अन्य लेखों की सूची दी गई है जो आपके लिए उपयोगी हो सकते है :

 To read this article in English, click here: Book HCV Test for Hepatitis C and Get Complete Information About Hepatitis C in India

Summary
product image
Author Rating
1star1star1star1star1star
Aggregate Rating
3 based on 7 votes
Brand Name
LabsAdvisor
Product Name
Anti HCV Test Cost
Price
INR 400
Product Availability
Available in Stock
Call Now Button