TSH टेस्ट की कीमत / उत्तेजक थायरॉयड हार्मोन (टी एस एच) टेस्ट की कीमत

थायरॉयड उत्तेजक हार्मोन-Thyroid Stimulating Hormone (TSH) एक ऐसी जाँच है जिसके द्वारा थाइरॉयड ग्रंथि में पैदा होने वाली समस्या का पता चलता है। टीएसएच या उत्तेजक थायरॉयड हार्मोन शरीर में पिट्यूटरी ग्रंथि द्वारा निर्मित होता है। जब हाइपोथैलेमस द्वारा थायरोट्रोपिन उत्तेजक हार्मोन (TRH) का निर्माण होता है तभी TSH बनता है। जब TRH द्वारा पिट्यूटरी ग्रंथि को उत्तेजित किया जाता है तभी TSH बनना शुरू होता है।

TSH के कारण थायराइड ग्रंथि दो प्रकार के हार्मोन्स 1) ट्राईआयोडोथायरोनिन (टी 3) और 2)थायरोक्सिन (टी 4) का निर्माण करती है। ये दोनों हार्मोन हमारे शरीर के Metabolism को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

ट्राईआयोडोथायरोनिन (T3) और थायरोक्सिन (T4) एक ऐसे हार्मोन्स हैं जो पहले 3 वर्षो में मस्तिष्क के विकास के लिए बहुत जरूरी हैं। ऐसे बच्चे जिनकी थायरॉयड ग्रंथि, थायरॉयड हार्मोन (जन्मजात हाइपोथायरायडिज्म) पर्याप्त मात्रा में नहीं बना पाती, वह गंभीर रूप से मंदबुद्धि हो सकते हैं। यह ज़रूरी नही कि यह हर्मोन 3 साल क के बच्चों में विकसित होना जरुरी है, बल्कि बड़े बच्चों में भी समान्य रूप से थायरॉयड हार्मोन का विकसित होना जरुरी है। थायरॉयड उत्तेजक हार्मोन (TSH) की जाँच टी 3 और टी 4 के साथ की जा सकती है।

अगर शरीर में टीएसएच का स्तर बहुत अधिक हो, ऐसा एक की हालत में हो सकता है, जिसे हाइपरथायरॉइडिस्म कहा जाता है। जिसका मतलब है कि बहुत अधिक ऊर्जा का उत्तेजित होना। इसके कारण व्यक्ति का वजन कम हो सकता है। अगर टीएसएच का स्तर कम हो तो ऐसी हालत में हाइपोथायरायडिज्म विकसित होता है। इसमें शरीर पर्याप्त ऊर्जा का उपयोग नहीं करता जिससे वजन बढ़ने लगता है और सुस्ती आती है। हाइपरथायरॉइडिस्म और हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण की जानकारी इस लेख के आखिर में हैं।

आप LabsAdvisor.com की वेबसाइट पर थायराइड फंक्शन टेस्ट के बारे में और अधिक जानकारी पढ़ सकते हैं।

भारत के विभिन्न शहरों में टीएसएच टेस्ट की कीमत नीचे दी गई है। टेस्ट की कीमत Home Collection की आवश्यकता और लैब के आधार पर भिन्न हो सकती है। आप LabsAdvisor के साथ 08882668822 पर कॉल करके TSH टेस्ट बुक करा सकते हैं और हमारी वेबसाइट Labsadvisor.com पर online बुकिंग भी कर सकते हैं।


₹ 200 का वाउचर पाएँ और LabsAdvisor के साथ कोई भी मेडिकल टेस्ट करवाएँ। 

कोड प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।


भारत में टीएसएच टेस्ट की कीमत

TSH टेस्ट  / Thyroid Stimulating Hormone Test की कीमत  न्यूनतम लागत
दिल्ली में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 160

गुड़गांव में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 180

नोएडा में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 200

मुंबई में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत (फ्री होम कलेक्शन )

₹ 206

हैदराबाद में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत (फ्री होम कलेक्शन )

₹ 225

फरीदाबाद में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 190

बेंगलुरु में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत (फ्री होम कलेक्शन )

₹ 175

गाजियाबाद में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 200

नवी मुंबई में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत (फ्री होम कलेक्शन )

₹ 206

चंडीगढ़ में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 180

चेन्नई में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत

₹ 170

भारत के किसी भी शहर में टीएसएच टेस्ट (TSH Test) की कीमत (फ्री होम कलेक्शन के साथ)

₹ 270

labsadvisor-com-%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a5%8d%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-tsh-%e0%a4%9f%e0%a5%87%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%9f

LabsAdvisor.com – दिल्ली में TSH टेस्ट

थायराइड फंक्शन टेस्ट की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करके पढ़ें।

हाइपरथायरॉइडिस्म क्या है ?/

Hyperthyroidism

थाइरोइड ग्रंथि में T3 और T4 नाम के दो थाइरोइड हार्मोन का निर्माण होता है। जो हमारे शरीर की चयापचय प्रणाली और अन्य हार्मोन के कार्यो को नियंत्रित करता हैं। किसी कारणवंश अगर थाइरोइड ग्रंथि में यह हार्मोन के सामान्य से अधिक निर्मित होते हैं तो इस अवस्था को हाइपरथायरॉइडिस्म कहा जाता है। और इसके शरीर पर कई प्रतिकूल प्रभाव पढ़ सकते हैं।

हाइपरथायरॉइडिस्म के लक्षण / Hyperthyroidism के लक्षण

हाइपरथायरॉइडिस्म के कई लक्षण हैं ज़रूरी नही है कि हाइपरथायरॉइडिस्म के मरीज़ में यह सारे लक्षण नज़र आएँ। हाइपरथायरॉइडिस्म के लक्षण इस प्रकार हैं :-

  • थकान या मांसपेशियों में कमजोरी होना
  • हाथ कांपना
  • मिजाज़ बदलना
  • घबराहट या चिंता होना
  • दिल की धड़कन तेज़ होना
  • अस्थायी दिल की धड़कन होना
  • नींद न आना
  • गर्मी सहन न होना
  • ज्यादा पसीना आना
  • बिना कारण वज़न कम होना

हाइपरथायरॉइडिस्म की बीमारी से पीड़ित कुछ रोगियों में cardiac failure होने की वज़ह से साँस लेने म तकलीफ़, सीने में दर्द,घबराहट और चक्कर जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं। इस तरह के लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाएँ और अच्छा इलाज कराएं।

हाइपरथायरॉइडिस्म का निदान / Diagnosis of Hyperthyroidism

हाइपरथायरॉइडिस्म का निदान करने के लिए डॉक्टर आपकी शारीरिक जाँच के उपरांत थाइरोइड प्रोफाइल का टेस्ट करा सकता है। और यह जाँच सुबह खाली पेट होती है क्योंकि खाली पेट सैंपल देने से रिपोर्ट का रिजल्ट अच्छा आता है।

इसकी जाँच होने के बाद कारण जानने के लिए डॉक्टर गले का Ultrasound Scan, CT Scan या MRI Scan की जाँच कराते हैं।

अगर थाइरोइड प्रोफाइल टेस्ट की रिपोर्ट में T3 और T4 सामान्य  से ज़्यादा आता है और TSH सामान्य से कम आता है तो हाइपरथायरॉइडिस्म का निदान किया जाता है। अगर T3 और T4 सामान्य है और TSH सामान्य से कम आता है तब भी हाइपरथायरॉइडिस्म का निदान किया जाता है।

हाइपोथायरायडिज्म क्या है ?

थाइरोइड ग्रंथि में किसी कारणवंश हार्मोन के अपर्याप्त निर्माण होने की स्थिति को हाइपोथायरायडिज्म कहा जाता है। ये पुरूषों की अपेक्षा महिलाओं में ज्यादा होता है।

हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण / Hypothyroidism के लक्षण

हाइपोथायरायडिज्म के कई लक्षण हैं ज़रूरी नही है कि हाइपोथायरायडिज्म के मरीज़ में यह सारे लक्षण नज़र आएँ। हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण इस प्रकार हैं :-

  • कमज़ोरी व थकान महसूस होना
  • वजन बढ़ना या बढ़े हुए वजन को कम करने में कठिनाई होना
  • मांसपेशियों में ऐंठन और लगातार मांसपेशियों में दर्द होना
  • भद्दे सूखे बालों का होना
  • सूखी और पीली त्वचा का होना
  • बाल झड़ना
  • असहनीयता ठंड लगना
  • चिड़चिड़ापन होना
  • पसीना कम आना
  • चेहरे और गले पर सूजन आना

हाइपोथायरायडिज्म के दुष्परिणाम  / Side Effect of Hypothyroidism

लंबे समय तक हाइपोथायरायडिज्म का उपचार न लेने पर निम्न गंभीर दुष्परिणाम हो सकते हैं।

  • ह्रदय रोग
  • जोड़ों के दर्द की समस्या
  • मोटापा
  • गर्भपात
  • कोमा की बीमारी होना

हाइपोथायरायडिज्म का निदान / Diagnosis of Hypothyroidism

हाइपोथायरायडिज्म के निदान के लिए डॉक्टर आपको थाइरोइड प्रोफाइल खून की जाँच कराने की सलाह देते हैं। यह जाँच करने के लिए आपको सुबह खली पेट खून का सैंपल देना होता है। और आजकल डॉक्टर कभी भी थाइरोइड प्रोफाइल की जाँच करने की सलाह दे देतें हैं और खली पेट टेस्ट करने से result ज्यादा अच्छा आता है।

अगर आपकी रिपोर्ट में सब सामान्य श्रेणी में आता है तो आपको हाइपोथायरायडिज्म नहीं हैं। अगर T4 का लेवल कम और TSH सामान्य से ज़्यादा आता है तो इसका मतलब आपको हाइपोथायरायडिज्म हैं। अगर T4 का लेवल सामान्य और TSH सामान्य से ज़्यादा आता है तो इसका मतलब आपमें हाइपोथायरायडिज्म की शुरुआत हो रही है। और आपको इलाज की जरूरत है इसे Subclinical Hypothyroidism भी कहते हैं।


₹ 200 का वाउचर पाएँ और LabsAdvisor के साथ कोई भी मेडिकल टेस्ट करवाएँ। 

कोड प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।


TSH टेस्ट बुक करने के लिए

आप अपने शहर में टीएसएच टेस्ट की नवीनतम कीमत की जाँच के लिए ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक करें, और 08882668822 पर कॉल करके भी बुकिंग करा सकते हैं। अगर आप टीएसएच टेस्ट के बारे में और जानना चाहते हैं या call Back चाहतें हैं तो नीचे दिए गए फॉर्म में अपनी details भरें।

अन्य संबधित लेख जो आपके लिए उपयोगी हो सकते हैं :-

To read this article in English, click here: Comprehensive Guide to TSH Test in India and Book at Affordable Price

%d bloggers like this: